केंद्र सरकार ने राजपथ का नाम बदल कर कर्तव्य पथ’ रखा

केंद्र सरकार ने राजपथ का नाम बदल कर कर्तव्य पथ’ रखा

Share this News

मोदी सरकार का एक और बड़ा फैसला राजपथ का नाम बदल कर कर्तव्य पथ’ किया गया.केंद्र ने सोमवार को इस बात की घोषणा की है.सेंट्रल विस्टा एवेन्यू विजय चौक से इंडिया गेट तक फैला हुआ है.

केंद्र की मोदी सरकार ने एक और ऐतिहासिक फैसला लिया है. अब राजपथ (Rajpath) का नाम बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ किया जाएगा. नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन तक के पूरे हिस्से को अब कर्तव्य पथ के रूप में जाना जाएगा. जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) 8 सितंबर को सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना (Central Vista Project) के तहत बनाए गए एक खंड का उद्घाटन करेंगे. राजपथ का नाम बदलने के लिए नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) ने राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर ‘कर्तव्यपथ’ करने के लिए 7 सितंबर को एक विशेष बैठक बुलाई है.

कहा जा रहा है कि जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से गुलामी की हर चीज से मुक्त होने की बात कही है, तभी से राजपथ के नाम बदलने पर भी मंथन शुरू हो गया था. इसी कड़ी में सरकार ने अब कई सालों बाद राजपथ को कर्तव्य पथ नाम देने का ऐलान कर दिया है. बता दें कि 8 सितंबर को पीएम मोदी सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का उद्घाटन करेंगे.यह पहला ऐसा प्रोजेक्ट है, जो मोदी सरकार के सेंट्रल विस्टा रीडेवलपमेंट प्लान के तहत पूरा हुआ है। सेंट्रल विस्टा प्लान की घोषणा सितंबर 2019 में की गई थी। 10 दिसंबर 2020 को पीएम नरेंद्र मोदी ने इसकी नींव रखी थी।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना PM-SYM-Pradhan Mantri Shram Yogi Pension Yojana

बता दें कि इससे पहले मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल के दौरान साल दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास की ओर जाने वाले रेस कोर्स रोड का नाम बदलकर ‘लोक कल्याण मार्ग’ कर दिया था. वही अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 सितंबर को नई सार्वजनिक सुविधाओं के साथ नवीनीकृत सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का उद्घाटन करेंगे. सेंट्रल विस्टा एवेन्यू नवीनीकरण परियोजना ने विरासत मूल्य वाले तत्वों को बहाल करते हुए एवेन्यू का आधुनिकीकरण किया. शहरी मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 74 ऐतिहासिक लाइट पोल, और सभी चेन लिंक को साइट पर बहाल, अपग्रेड और पुन: स्थापित किया गया है.

केंद्र की मोदी सरकार ने एक और ऐतिहासिक फैसला लिया है. अब राजपथ का नाम बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ किया जाएगा. नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन तक के पूरे हिस्से को अब कर्तव्य पथ के रूप में जाना जाएगा. जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 8 सितंबर को सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना के तहत बनाए गए एक खंड का उद्घाटन करेंगे. राजपथ का नाम बदलने के लिए नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) ने राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर ‘कर्तव्यपथ’ करने के लिए 7 सितंबर को एक विशेष बैठक बुलाई है.

पेटीएम,रेजरेप.कैशफ्री के 6 से ज्यादा ऑफिसों में ईडी की रेड,17 करोड़ रुपए जब्त

कहा जा रहा है कि जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से गुलामी की हर चीज से मुक्त होने की बात कही है, तभी से राजपथ के नाम बदलने पर भी मंथन शुरू हो गया था. इसी कड़ी में सरकार ने अब कई सालों बाद राजपथ को कर्तव्य पथ नाम देने का ऐलान कर दिया है. बता दें कि 8 सितंबर को पीएम मोदी सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का उद्घाटन करेंगे.यह पहला ऐसा प्रोजेक्ट है, जो मोदी सरकार के सेंट्रल विस्टा रीडेवलपमेंट प्लान के तहत पूरा हुआ है। सेंट्रल विस्टा प्लान की घोषणा सितंबर 2019 में की गई थी। 10 दिसंबर 2020 को पीएम नरेंद्र मोदी ने इसकी नींव रखी थी।

बता दें कि इससे पहले मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल के दौरान साल दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास की ओर जाने वाले रेस कोर्स रोड का नाम बदलकर ‘लोक कल्याण मार्ग’ कर दिया था. वही अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 सितंबर को नई सार्वजनिक सुविधाओं के साथ नवीनीकृत सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का उद्घाटन करेंगे. सेंट्रल विस्टा एवेन्यू नवीनीकरण परियोजना ने विरासत मूल्य वाले तत्वों को बहाल करते हुए एवेन्यू का आधुनिकीकरण किया. शहरी मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 74 ऐतिहासिक लाइट पोल, और सभी चेन लिंक को साइट पर बहाल, अपग्रेड और पुन: स्थापित किया गया है.

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

खेल की खबरें पढ़ने के लिए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..