कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर अपने चुनावी हलफनामे में सही जानकारी छिपाने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की है और गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र से उनको चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित करने की मांग भी कर डाली है. कांग्रेस की ओर से की गई शिकायत में कहा गया है कि अमित शाह ने 2 जगहों पर गलत जानकारी दी है.

कांग्रेस की ओर गांधीनगर से उम्मीदवार सीजे चावड़ा ने अमित शाह को अयोग्य ठहराने की मांग की है. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की गई अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने चुनावी हलफनामे में सही जानकारी नहीं दी है, लिहाजा उन्हें चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित किया जाए. शिकायत के अनुसार अमित शाह ने गांधीनगर में एक प्लॉट के बारे में और दूसरा अपने बेटे के कर्ज के बारे में सही जानकारी नहीं दी है. अमित शाह के बेटे जय उनके गारंटर भी हैं.

बेटे के कर्ज का जिक्र नहींः चावड़ा

मीडिया रिपोर्ट्स का जिक्र करते हुए कांग्रेस ने कहा कि शाह ने अपनी प्रॉपर्टी की कीमत कम बताई है जबकि सरकारी निर्देशों के अनुसार उस प्रॉपर्टी की कीमत 66.5 लाख है. लेकिन अमित शाह ने इस प्रॉपर्टी की कीमत 25 लाख बताई थी.

वहीं कागजातों की जांच के दौरान सीजे चावड़ा ने शुक्रवार को शाह की उम्मीदवारी पर सवाल उठाते हुए दावा किया जब शाह राज्यसभा का चुनाव लड़ रहे थे तब उन्होंने घोषित किया था कि उन्होंने अपने बेटे जय शाह की कंपनी के लिए अपनी संपत्ति गिरवी रखकर 25 करोड़ रुपये का कर्जा लिया था, जिसका जिक्र हलफनामे में नहीं है.

इसके बाद कांग्रेस पर हमला करते हुए बीजेपी के प्रवक्ता भरत पांड्या ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टी और उसके उम्मीदवार अमित शाह की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कर्ज चुका दिया गया है. गिरवी रखी संपत्ति को वापस ले लिया गया है. पांड्या ने कहा कि कांग्रेस जांच किए बिन आपत्ति जाहिर कर दी.

बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहली बार गांधीनगर लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं. गुजरात की 26 सीटों पर 23 अप्रैल को चुनाव होने हैं जहां कांग्रेस ने अमित शाह के खिलाफ अपने विधायक सीजे चावड़ा को चुनाव मैदान में उतारा है.

अमित शाह का हलफनामा

2016-17 में राज्यसभा के सांसद के तौर पर नामाकंन दाखिल करते वक्त उन्होंने अपनी सालाना आय जहां 43,68,450 रुपये और पत्नी सोनल शाह की आय 1,05,84,450 रुपये दिखाई थी. 2017-18 में अमित शाह की कमाई बढ़कर 53,90,970 रुपये हो गई, जबकि उनकी पत्नी की कमाई 2,30,82,360 रुपये बढ़ गई.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के हलफनामे के अनुसार उन्होंने शेयर बाजार में भी अच्छा खासा पैसा निवेश किया है. उन्होंने शेयर बाजार में 17.59 करोड़ रुपये निवेश किए हैं, जबकि उनकी पत्नी सोनल शाह का निवेश 4.36 करोड़ रुपये है. अमित शाह के पास 35 लाख रुपये के आभूषण हैं. उनके पास 7 कैरेट के डायमंड और 25 किलो चांदी है. 30 लाख रुपये की ज्वैलरी उन्हे विरासत में मिली है. वहीं उनकी पत्नी के पास 63 लाख रुपये की ज्वैलरी है. उनके पास 63 कैरेट के डायमंड हैं.

https://youtu.be/Klw9YWjLU4Y

उन्होंने अपने हलफनामे में लिखा कि उनके पास 20,633 रुपये नकद हैं, जबकि उनकी पत्नी के पास 72,578 रुपये नकद हैं. वहीं 18,89,710 रुपये बैंक में जमा है. अमित शाह को विरासत में मिली संपत्ति की कीमत आज 14,97,92,563 रुपये हैं, जबकि खुद से बनाई गई संपत्ति की कीमत 3,26,53,661 रुपये है. पत्नी के जरिए बनाई संपत्ति की कीमत 5,27,38,692 रुपये है.

अमित शाह ने अपने हलफनामे में यह भी बताया कि उनकी कमाई का जरिया राज्यसभा के सांसद के तौर पर मिलने वाली सैलरी, किराए पर दी गई संपत्ति, खेती की आय और शेयर बाजार में निवेश है. बीजेपी अध्यक्ष की पत्नी एक गृहिणी हैं. उनकी कमाई का जरिया खेती, शेयर बाजार में निवेश और किराये पर दी गई संपत्ति है. इस हलफनामे से पता चलता है कि अमित शाह की संपत्ति पिछले सात साल में तीन गुना बढ़ी है.

@vicharodaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here